Kausani and Baijnath – 1 day trip from Ranikhet

 प्रकृति उत्सव का हिस्सा बनने के लिए चले आइये कौसानी ~ मिलिए छायावादी कवि पंत से~  बैजनाथ के ऐतिहासिक मंदिरों के दर्शन के बगैर अधूरा है कौसानी सफर कौसानी पहुंचकर …

Read More

Ranikhet – a trip down memory lane

रानीखेत – यादों का सफर बीते महीने काठगोदाम से भीमताल, नैनीताल, भवाली होते हुए अल्मोड़ा, रानीखेत और आगे द्वाराहाट, दूनागिरी की पहाड़ियों तक लगभग  650 किलोमीटर का फासला नापते हुए …

Read More

A road trip to wonderland called Kot Naikana

हिमालय की फिज़ाओं में चौमासे में पहाड़ की यात्रा? बड़ा वाजिब सवाल था और हमेशा की तरह मेरे पास जवाब नहीं था। सफर सिर्फ सफर के लिए होने लगते हैं …

Read More

Recommended reading in हिंदी for travel enthusiasts

इस ब्लाॅग में अब से यह नर्इ पहल जुड़ रही है। आपको हिंदी जगत की उन पत्रिकाओं-प्रकाशनों की जानकारी देने का प्रयास मैं करूंगी जिनमें सैर-सपाटे से नाता रखने वाला कोर्इ …

Read More

Where the Lords’s holy presence echoes! A journey to the birthplace of Saint Vallabhacharya, founder of Vallabha sect

Champaranya, the birthplace of Saint Vallabhacharya, founder of Vallabh sect  (Nearest Railhead / airport – Raipur, Chhattisgarh, distance – 50 kms) महाप्रभु वल्लभाचार्य की जन्मस्थली चंपारण्य राजधानी छत्तीसगढ़ से 50 …

Read More

Bastar – potpourri of tribal heritage बस्तर के बियाबानों में

बस्तर में उस गहराती शाम के सन्नाटे का रोमांच आज भी ताज़ादम है। कांगेर वैली नेशनल पार्क में तीरथगढ़ जलप्रपात को देखकर अकेली लौट रही थी। सर्पीले मोड़ काटती सड़क …

Read More

Goa – away from beach tourism

एक गोवा ऐसा भी … सूर्य, समंदर और सुरा के समीकरण से परे भी एक गोवा है, वही गोवा मेरी मंजिल बना था इस बार। पार्टी, नाइटलाइफ, शैक्स, बीच, क्लब, …

Read More

Following Buddha in Chhattisgarh

छत्तीसगढ़ में मैंने खुद को एलिस इन वंडरलैंड की तरह महसूस किया। रायपुर के स्वामी विवेकानंद हवाईअड्डे पर उतरते ही पहला झटका लगा, इतना आधुनिक, चकाचैंध वाला एयरपोर्ट और वो …

Read More

Chhattisgarh – celebration of art and Culture छत्तीसगढ़ – लीक से हटकर पर्यटन

बर्तोलिन ने एक दफा कहा था, जो सहज उपलब्ध है, वही बिकता है। शायद यही वजह रही होगी कि गोवा, मुंबई, राजस्थान जैसे ठौर—ठिकाने ट्रैवल जगत का हिस्सा कभी का …

Read More